"बच्चों के लिए समर्पण" कार्यक्रम

एनसीपीसीआर ने “बच्चों के लिए समर्पण” कार्यक्रम की शुरुआत की

कोरोना या किसी दूसरे कारण से मार्च 2020 के बाद अपने एकल या दोनों माता-पिता को खोने वाले बच्चों को वित्तीय सहायता देने के लिए राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने पायलट योजना शुरू की ।

एनसीपीसीआर के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने सोमवार को बताया कि बच्चों की सुविधा व सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए उन्हें “बच्चों के लिए समर्पण” कार्यक्रम के तहत ₹2000 प्रति माह की वित्तीय सहायता दी जाएगी ।

उन्होंने बताया कि यह पायलट परियोजना फिलहाल मध्य प्रदेश के 3 जिलों (विदिशा, रायसेन और सीहोर) में शुरू की गई है और आने वाले महीनों में पूरे देश में इसका विस्तार किया जाएगा ।

Leave a Reply

Scroll to Top