भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2021

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2021 (Corruption Perceptions Index) जारी

🔹शीर्षक : भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक 2021 (Corruption Perceptions Index -CPI 2021)
🔹जारीकर्ता : ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल
🔹जारी करने की तिथि : 25 जनवरी 2022
🔹शीर्ष स्थान : डेनमार्क, फिनलैंड और न्यूजीलैंड (संयुक्त रूप से )
🔹निम्नतम स्थान : दक्षिण सूडान ( रैंक 180)

ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल द्वारा सार्वजनिक क्षेत्र के भ्रष्टाचार के कथित स्तरों के आधार पर 180 देशों और क्षेत्रों की रैकिंग की सूची तैयार की जाती है । यह रैकिंग 0 से 100 अंकों के पैमाने का उपयोग कर तय की जाती है ।

जहाँ शून्य अंक प्राप्त करने वाला देश सर्वाधिक भ्रष्ट होता है जबकि 100 अंक प्राप्त करने वाले देश को भ्रष्टाचार की दृष्टि से सबसे अच्छा माना जाता है ।

सूचकांक में लगभग दो-तिहाई देशों ने 50 से कम का स्कोर प्राप्त किया है ।

सूचकांक में सर्वोत्तम 10 स्थान प्राप्त राष्ट्र

रैंक  राष्ट्र  स्कोर
1 डेनमार्क  88
फिनलैंड  88
न्यूजीलैंड  88
नार्वे  85
सिंगापुर 85
स्वीडन  85
स्विट्जरलैण्ड  84
नीदरलैंड 82
लक्जमबर्ग  81
10 जर्मनी   80

सूचकांक में भारत की स्थिति :-

भ्रष्टाचार धारणा सूचकांक (सीपीआई) 2021 में 180 देशों की सूची में भारत को 40 स्कोर के साथ 85वाँ स्थान मिला है ।

भारत ने सूचकांक में यह स्थान (85वाँ) मालदीव के साथ साझा किया है ।

इस सूचकांक में भारत के रैंक में एक स्थान का सुधार आया है , भारत वर्ष 2020 में 86वें स्थान पर था ।

भारत के पड़ोसी देशों की स्थिति :-

रैंक  राष्ट्र  स्कोर
25   भूटान 68
66  चीन  45
96   इंडोनेशिया 38
102  श्रीलंका  37
110  थाईलैंड  35
117  नेपाल 33
140  म्यांमार  28
140  पाकिस्तान  28
147  बांग्लादेश  26
174 अफगानिस्तान   16

 

Leave a Reply