विश्व अहिंसा दिवस

2 अक्टूबर : विश्व अहिंसा दिवस

महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को हुआ था और इस दिन को ही विश्व अहिंसा दिवस के रूप में भी मनाया जाता है । क्योंकि महात्मा गांधी को उनके अहिंसात्मक आंदोलन के लिए जाना जाता है और साथ ही वैश्विक तौर पर इस दिन गांधीजी के प्रति सम्मान व्यक्त करने के लिए इस दिन को विश्व अहिंसा दिवस के रूप में मनाया जाता है । भारत में इसे गांधी जयंती के रूप में मनाया जाता है ।

15 जून 2007 को संयुक्त राष्ट्र महासभा में 2 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस स्थापित करने के लिए मतदान हुआ । महासभा में सभी सदस्यों ने 2 अक्टूबर को इस रूप में स्वीकार किया ।

इस दिवस का मनाने का उद्देश्य संपूर्ण विश्व में शांति स्थापित करना और अहिंसा का मार्ग अपनाना है ।

Leave a Reply

Scroll to Top